Category Archives: Uncategorized

कृषि

कृषि सुविधा
गाँव वालों के पास खेती करने के लिए पर्याप्त खेती है जिसमें वे लोग अपनी सुविधा के अनुसार फसल लगाते है खेतों में धान, गेंहूँ, मक्का, बाजरा, जौ, मटर, चना, दाल, गन्ना, एवं सब्जी आदि की खेती करते है और कुछ लोगों के बाग भी है जिसमें आम, अमरूद, जामुन आदि के पेड़ लगे है!

शिक्षा

प्राइमॅरी विधालयों की संख्या 02
स्थापना 1995-96
प्रधानाचार्य
1
अध्यापक 3
अध्यापिका
2
शिक्षा मित्र 2
छात्र 15
छात्राएँ 18
माध्यमिक विधालयों की संख्या
स्थापना
प्रधानाचार्य
अध्यापक

अध्यापिका
छात्र
छात्राएँ
आँगन बाड़ी केंद्रों की संख्या
कार्यकर्ता
इंटर कॉलेजों की संख्या
डिग्री कॉलेजों की संख्या
पौंड शिक्षा केंद्रों की संख्या 00
रात्रि शिक्षा केंद्रों की संख्या 00
कंप्यूटर शिक्षा केंद्रों की संख्या 00
तकनीकी शिक्षा केंद्रों की संख्या 00

पंचायत

ग्राम पंचायत बड़ागाँव
ब्लॉक : भिटौरा
पोस्ट : भिटौरा
थाना : हुसेंगंज
जिला : फतेहपुर
पंचायत में कुल वार्डों की संख्या : 11


ग्राम प्रधानम : श्रीमति माया देवी पत्नी श्री रामनरेश
उम्र : 47
कार्य : ग्राम पंचायत के अंतर्गत आने वाले समस्त गाँव के विकास कार्य को देखना एवं उन गाँव का समुचित विकास करना.
सचिव : श्री धुन्ना प्रसाद
पंचायत सदस्य :- 11

नाम पिता/पति/माता उम्र फोन/मोबाइल पता कार्य फोटो
1
2
3
4
5
6
7
8
9
10
11

पंचायत का क्षेत्रफल: 610 हेक्टेयर लगभग
पंचायत की कुल जनसंख्या: 4569 लगभग (पुरुष-40% महिला-35% बुजुर्ग-10% बच्चे-15%)
जनसंख्या घनत्व : 400 व्यक्ति / वर्ग कि०मी० लगभग
साक्षरता : 80% लगभग

इतिहास

बड़ागाँव ग्राम पंचायत, में इस बार महिला प्रधान है! इनकी शिक्षा माध्यमिक ही है! यह फतेहपुर शहर से 20/25 किलोंमिटर की दूरी पर है! यहाँ पर आने जाने के लिए संम्पर्क मार्ग बना हुआ है! पर यहाँ पर प्राइवेट साधन है! और लोग अपने साधन से आते जाते है! इस ग्राम पंचायत में पाँच गाँव आते है! जिसमे बड़ागाँव ग्राम पंचायत भी सम्मलित है! अन्य चार गाँव भदार, मानपुर, कल्यणीपुर, ज़िरवा पुर, आते है! ये सभी गाँव छोटे-छोटे है! यहाँ सभी लोग साधारण तौर-तरीके से ही रहते है! यहाँ के घर  तो पक्के एवम् कच्चे बने है! पर उनका रहन-सहन सहदरण ही है| लगभग सभी के पास (गाय, भैंस, बकरी, बैल) आदि जानवर भी है| जिनसे कृषि का कार्य किया जाता है| इस पंचायत में पीने के लिए पानी की व्यवस्था अच्छी है जानवरों के लिए तालाब बने हुए है जिनमें गाँव के जानवर पानी पीते है एवं गाँव के बच्चे यहाँ पर नहाते भी है गर्मियों के मौसम में ये तालाब लोगों को काफ़ी राहत देते है|

भदार:- भदार ग्राम में ही प्रधान जी का घर है!  यह गाँव भी ज़्यादा बड़ा नही है| यहाँ का रहन-सहन भी सभी गाँव जैसा ही है गाँव में एक तालाब है और यहाँ पर कच्चे-पक्के मकान भी है कुछ के मकान झोपड़ी के भी है जो लोग काफ़ी ग़रीब है|

मानपुर:- मानपुर भदार ग्राम से कुछ ही दूर पर स्थित है और यहाँ के लोग भी साधारण तौर-तरीके से रहते है एवं अपनी दिनचर्या के अनुसार कार्य करते है इस गाँव में पर्याप्त खेती है जिस में गाँव के लोग खेती करते है और अपना भारण पोषण करते है गाँव के कुछ लोग बाहर जा कर नौकरी भी करते है|

कल्यणीपुर:- यह भी भदार गाँव के बगल में है कल्यणीपुर भदार ग्राम से २ किलो मीटर की दूरी पर स्थित है और यहाँ के लोग भी साधारण तौर-तरीके से रहते है एवं अपनी दिनचर्या के अनुसार कार्य करते है इस गाँव में पर्याप्त खेती है जिस में गाँव के लोग खेती करते है और अपना भारण पोषण करते है गाँव के कुछ लोग बाहर जा कर नौकरी भी करते है|

ज़िरवा पुर:- यह गाँव भदार ग्राम से १.५ किलो मीटर की दूरी पर स्थित है और यहाँ के लोग भी साधारण तौर-तरीके से रहते है एवं अपनी दिनचर्या के अनुसार कार्य करते है इस गाँव में पर्याप्त खेती है जिस में गाँव के लोग खेती करते है और अपना भारण पोषण करते है गाँव के कुछ लोग बाहर जा कर नौकरी भी करते है|
रज़नापुर:-